अगर आप किसी Company में जॉब करते है तो आपको पता होता की आज के समय में PLC कितनी Important है इस पोस्ट में हम आपको basic knowledge of plc System के बारे में बताएँगे, इस पोस्ट में आपको PLC (Programmable Logic Control) in HindiPLC Working and Connection in Hindi. के बारे में जानने को मिलेगा|

अगर आप किसी Company में जॉब करते है तो आपको पता होता की आज के समय में PLC कितनी Important है इस पोस्ट में हम आपको basic knowledge of plc System के बारे में बताएँगे, इस पोस्ट में आपको PLC (Programmable Logic Control) in HindiPLC Working and Connection in Hindi. के बारे में जानने को मिलेगा|

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आए तो आप हमको इस पोस्ट के निचे कमेंट करते जरूर बताना जिससे हमको पता लग सकें की आपको हमारी पोस्ट कैसी लग रही है?

अगर आप हमारी सभी latest पोस्ट का update पाना चाहते है, तो आप हमको Facebook पर follow कर सकते है, क्योकि सभी latest पोस्ट हम Facebook पर update करते रहते है | तो चलिए सुरु करते है

What is plc (Programmable Logic Control). Programmable Logic Control क्या है?

जब से plc मार्किट में आयी है तब से Automation काफी बड गया है, अगर हम बात करें आज के समय में किसी भी electrical panel की तो हमारी कोसिस यही रहती है की उस पैनल को RLC (Relay Logic Control) की जगह PLC (Programmable Logic Control) में बनाया जाए क्युकी plc को इस्तेमाल करने से circuit बहुत ही सिंपल बन जाता है और मशीन बार बार खराब होने के चांसेस कम से कम हो जाते है| 

plc एक ऐसी device है जिसमे में अपने electrical circuit को program बना कर plc System में डाल सकते है| plc के अंदर पहले से ही एक memory होती है जिसमे सारा program सेव होता है और रन होता है| plc के अंदर ही Electrical Timer, Contactor, Counter NO, NC और भी कई प्रकार के device पहले से ही लगे होते है, लेकिन अच्छी बात ये है plc के अंदर इतने सारे device होने के बाद भी plc का size ज्यादा बड़ा नहीं होता क्योकि इसमें इस्तेमाल होने वाले सभी components का size बहुत ही छोटा होता जिसकी वजह से इसको आज के समय में बहुत जयादा इस्तेमाल किया है

क्योकि plc में बने circuit, rlc में बने circuit के मुकाबले काफी भरोसेमंद होते है और सही से काम कर पाते है|

PLC Working and Connection in Hindi. (PLC कैसे काम करता है और इसके कनेक्शन कैसे किए जाते है?)

plc के अंदर हमारे mobile phone की तरह ही memory card होता है, लेकिन plc और mobile के memory card में इतना ही फर्क है की plc में storage MB में होता है और mobile में storage GB में होता है| plc के अंदर हम अपने laptop या फिर computer की मदद से program डालते है और फिर ये program, plc रन करता है|

जो program हम plc में डालते है वो एक तरह से Electrical Connections होते है जिनको Ladder में Connection करके फिर Computer या Laptop की मदद से plc में डाल दिया जाता है। plc को चालू करने के लिए 220V AC Supply दी जाती है। और 24V DC Controlling के लिए दी जाती है। 

24V DC plc को अलग से भी दी जा सकती है या फिर 24V DC plc से भी मिल जाती है। plc में 2 तरह से Module होते है, पहला है Input Module और दूसरा है Output Module. Input Module में Input signal दिए जाते है जोकि NO Switch, NC Switch, Sensors, Limit Switch, Temperature Control Devices, PID Controller या फिर Drive जैसे और भी कई तरह से दिया जा सकता है।

जो input हम plc को देते है plc हमारे ladder connection के हिसाब से हमको Output Module से Output दे देता है। Output Module से मिलने वाली Output 24V DC में होती है और फिर इस 24V DC output को हम Relay Board में देते है जिसमें 24V DC की Relay लगी होती है।

इन Relay के NO या fir NC वाले terminal से हम अपने AC या DC किसी भी Load को control कर सकते है। Load से हमारा मतलब Contactor से है, जितने Volt का contactor होगा उसी के हिसाब से Relay से Supply Voltage दी जाती है।

 PLC में दो तरह से Connection किए जा सकते है, पहला है Source Type Connection और दूसरा है Sink Types ConnectionSource Types Connection में DC supply की Positive terminal को control किया जाता है, और Sink types connection में DC supply की Negative terminal को control किया जाता है।

पहले जो plc आती थी वो या तो सिर्फ source types connection के लिए होती थी या फिर सिर्फ sink types connection के लिए होती थी, लेकिन आज के समय जितनी भी plc आती है वो सभी Source or Sink दोनु तरह के connection के लिए होती है, और ये देखने के लिए आप plc पर देख भी सकते है सभी plc के ऊपर लिखा होता है s/s यानी कि इसमें source और sink दोनु तरह से connection किए जा सकते है।

PLC का Program कैसे बनता है? और PLC System कौन – कौन सी Company की आती है?

जितनी भी Company, PLC बनाती है उन सभी Company के खुद के Software भी होते है, जिनमें PLC का Program बनाया जाता है।

अगर PLC और Software अलग – अलग company के होंगे तो वो program उस दूसरी plc में काम नही करेगा।

अब बात आती है कि कौन – कौन सी Companies PLC बनाती है, या फिर India में सबसे ज्यादा PLC किस Company की इस्तेमाल की जाती है।

अगर आप plc programming सीखना चाहते है तो शुरुआत आप उप्पर दी गई किसी भी एक plc से कर सकते है क्योकि ये plc सिखने के लिए भी बहुत अच्छी है, और आसान भी है| आप इन सभी plc companies की Website पर जाके इनके बारे में और भी ज्यादा जान सकते है और इनकी किसी भी plc System का manual डाउनलोड करके पढ़ भी सकते है| 

Leave a Reply

Your email address will not be published.